Aadhar Card पर कितने SIM Number Active है, कैसे पता करे?

आज के इस पोस्ट में हम जानकारी हासिल करेंगे की Aadhar Card कितने Mobile Number Active है कैसे पता करे? यानि अगर किसी व्यक्ति का आधार कार्ड है तो उसके आधार नंबर पर कुल कितने SIM ख़रीदे गए है? ऐसे में अगर आप खुद का Aadhar card number से check करना चाहते है की आपके नंबर पर कितने SIM card active है और उनके नंबर क्या है? तो यहाँ पर पूरी जानकारी विस्तार से मिलेगा जिससे आप तुरंत पता कर सकते है कितने लोग अपना आधार कार्ड इस्तेमाल कर रहे है.

SIM Card fraud एक ऐसा तरीका है जिससे बहुत सारे लोग चुपके से किसी दूसरे के व्यक्ति के Aadhar card पर SIM activate करा लेते है और इस्तेमाल करते है. ऐसे में जिस व्यक्ति का आधार कार्ड है उसे जानकारी भी नहीं होता है की कौन कौन से लोग उसके आधार कार्ड का इस्तेमाल करके SIM card ख़रीद कर इस्तेमाल कर रहे है. ऐसे में इस तरह के SIM activation fraud से बचने के लिए सरकार ने कमाल का तरीका निकला है.

सरकार ने एक इनफार्मेशन पोर्टल बनाया है. जहाँ से कोई भी व्यक्ति जाकर चेक कर सकता है की उसके आधार कार्ड नंबर पर कितने SIM activate किये है और Mobile Number चालू है. अगर व्यक्ति को कोई Fraud यानि Unknown mobile number दिखयी देता है जो की उसके जानकारी में नहीं है. तो वो उसे बंद करने के लिए telecom company को Complaint भी कर सकते है. इससे आप आगे होने वाले किसी भी SIM card fraud से बच जायेंगे.

SIM Fraud क्या होता है?

बहुत सारे यूजर जानते ही नहीं है की उनके साथ SIM Fraud हुआ है. क्योकि ऐसा कोई माध्यम नहीं था जिससे वह पता कर पाते है की उनके ID पर कितने SIM activate हो चुके है और इस्तेमाल हो रहे है. SIM fraud का मतलब होता है – किसी टेलीकॉम ऑपरेटर से गलत तरीके से लिया गया Mobile Number सिम कार्ड फ्रॉड कहलाता है.

SIM Fraud Detector

अगर कोई व्यक्ति, किसी दूसरे unknown व्यक्ति का Aadhar card या दूसरे किसी Identity card का इस्तेमाल करके किसी कंपनी का SIM card issue कराकर इस्तेमाल करता है. तो यह फ्रॉड कहलाता है और बहुत सारे टेलीकॉम ऑपरेटर एजेंट होते है जो की पैसो की लालच में आकार ऐसा काम कर देते है. कानून की नज़र में यह एक अपराध है और ऐसा करने वाले को जेल जाना पड़ेगा.

अब डिजिटलीकरण की वजह से Mobile fraud पर रोक लगा है लेकिन फिर भी ऐसे बहुत सारे लोग है जो की किसी दूसरे व्यक्ति का ID कार्ड इस्तेमाल करके Mobile number activate करा लेते है. ऐसे में ये हमारी जिम्मेदारी बनता है की चेक करे की हमारे ID कार्ड का इस्तेमाल करके कोई ऐसा फ़ोन नंबर तो activate नहीं है जिसके बारे में हम नहीं जानते है. इसके लिए आप सिम कंपनी कस्टमर केयर पर कॉल करके जानकारी हासिल कर सकते है. इसके साथ कोशिश करना चाहिए डिजिटल तरीके से सिम को activate करना ताकि लोग गलत इस्तेमाल ना कर पाए.

Aadhar Card पर कितने SIM Number Active है, कैसे पता करे?

यहाँ पर हम बात कर रहे है की किसी Aadhar card का इस्तेमाल करके कितने SIM card active कराया गया है. ऐसे में यहाँ बताये गए तरीके से जानकारी मिलेगा की अपने जिस आधार नंबर पर अपना सिम ख़रीदा है उसका इस्तेमाल करके और कौन से Mobile number active किये गए है. ऐसे में अगर आप के आधार पर कोई ऐसा मोबाइल नंबर एक्टिव है जिसके बारे में आप नहीं जानते है तो उसे रिपोर्ट कर सकते है.

सरकार ने एक ऐसा Portal बनाया है जहाँ पर केवल मोबाइल Number दर्ज करके उस नंबर से जुड़े सभी जानकारी हासिल कर सकते है. यहाँ पर जैसे फ़ोन नंबर एंटर करते है उससे जुड़े आधार कार्ड का डिटेल सामने आ जाता है. ऐसे में यूजर को तुरंत जानकारी मिल जायेगा की कौन सा आधार नंबर उस Mobile number activate करने के लिए इस्तेमाल किया गया है.

आधार कार्ड पर कितने SIM activate है ये चेक करने के लिए TAFCOP के वेबसाइट पर जाना होगा जिसका URL है https://tafcop.dgtelecom.gov.in, यह भारत सरकार के Information डिपार्टमेंट की वेबसाइट है जो की फ्रॉड activity रोकने के लिए बनाया गया है. कोई भी व्यक्ति यहाँ पर फ़ोन नंबर दर्ज करके जानकारी हासिल कर सकते है.

Portal पर जाने के बाद यूजर को वो मोबाइल नंबर दर्ज करना है जो की उनके Aadhar card के साथ link है. ऐसे में नंबर दर्ज करने के बाद आपको एक OTP verification करना होगा फिर आपको पूरा डिटेल यहाँ पर मिल जायेगा, चुकी यह इनफार्मेशन थोड़ा पर्सनल है. इसलिए हम यह पब्लिक में जानकारी साझा नहीं कर सकते है. लेकिन OTP वेरिफिकेशन के बाद आपको पूरी जानकारी नीचे मिल जायेगा.

TAFCOP website par mobile number enter kare

इस तरीके से आप तुरंत पता कर सकते है की अपने आधार नंबर का इस्तेमाल करके कितने लोगो ने SIM activate कराया है. ऐसे में जो भी Unknown mobile number लगे उसके ख़िलाफ़ आप रिपोर्ट कर सकते है. टेलीकॉम कंपनी उस नंबर को बंद कर देगा और आप आगे आने वाले समस्याओं से बच सकते है. ताकि अगर आपके ID पर activated SIM का इस्तेमाल किसी गलत काम के लिए ना हो सके.

अब बहुत लोगो का सवाल आता है की आख़िर यह कौन सी संस्था है जो की हमें इस तरीके से फ्रॉड से बचाने का काम करते है. यूजर को मोबाइल नंबर फ्रॉड होने वाले समस्याओं से बचा लेते है.

TAFCOP Full Form in Hindi

TAFCOP का फुल फॉर्म होता है Telecom Analytics for Fraud management and Consumer Protection (धोखाधड़ी प्रबंधन और उपभोक्ता संरक्षण के लिए दूरसंचार विश्लेषण) यह भारतीय दूरसंचार विभाग का एक हिस्सा है. यह टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स के साथ मिलकर काम करता है जैसे की Airtel और Jio ताकि टेलीकॉम से जुड़े फ्रॉड को कम से कम किया जा सके.

इस समय TAFCOP केवल दो राज्यों में अपनी सर्विसेज दे रहा है Telangana और Andhra Pradesh. लेकिन जल्दी ही यह भारत के बाकि के सभी राज्यों के लिए available हो जायेगा और देश किसी भी जगह से कोई भी ऑनलाइन अपने सिम कार्ड और आधार कार्ड से साथ हो रहे फ्रॉड का पता लगा सकते है. इसकी मदद से बहुत सारे लोग जेल जाने से बच जाते है.

क्योकि अगर यूजर ने पहले ही रिपोर्ट कर दिया है की हमारे आधार पर एक मोबाइल नंबर एक्टिव है जिसके बारे में कोई जानकारी उन्हें नहीं है. तो TAFCOP टीम तुरंत टेलीकॉम कंपनी से कांटेक्ट करके उस सिम को ट्रैक करते है और जरुरत पड़ने पर उसे ब्लॉक कर देते है. इससे घर बैठे आप देश में होने वाले बहुत सारे फ्रॉड को भी रोक सकते है ताकि लोगो का नुकसान ना हो.

दोस्तों यहाँ पर हमने बताया है की Aadhar card पर कितने SIM activate है इसका पता कैसे करे और हम उम्मीद करते है. आपको इसके बारे में जानकारी मिल गया हो की किस तरह आप केवल मोबाइल नंबर के माध्यम से ये जानकारी हासिल कर सकते है. इसके साथ उस अननोन नंबर जिसका आपका ID इस्तेमाल किया है उसे ब्लॉक भी करा सकते है. अगर आपका कोई और सवाल या सुझाव है इसको लेकर तो कमेंट में हमें इसके बारे में जानकारी जरूर दे.

Leave a Comment