ATM Full Form in Hindi – पैसा निकालने की मशीन

नमस्कार दोस्तों आजकल जो भी व्यक्ति अपना नया बैंक खाता चालू करवाता है वह उसी समय ही अपने लिए एक ATM Card के लिए Apply कर देता है क्योंकि ATM Card बड़े ही काम की चीज होती है. तो आज के इस पोस्ट में हम लोग ATM के बारे में ही कुछ जानकारियां पढ़ने वाले हैं. जैसे कि ATM Full Form In Hindi, Meaning In Hindi तो अगर आप लोग भी  पूरा नाम जानना चाहते हैं तो हमारी इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें.

यहां पर हमने आपको केवल ATM का फुल फॉर्म के बारे में ही नहीं बताया है उसी के साथ-साथ हमने कोशिश की है कि ATM से संबंधित जितनी भी जानकारियां हैं आप को उनके बारे में बताया जाए.

 

तो इस पोस्ट में आपको घर बैठे पैसे कमाने के तरीके यानी कि अपने घर में ATM Card लगवाने के लिए आवेदन कैसे करें यह भी बताया हुआ है और यहां पर जितने भी लोग का इस्तेमाल कर रहे हैं उनको किन-किन सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए वह चीजें भी हमने बताई हुई है.

तो अगर आप लोग पहले से ही  इस्तेमाल कर रहे हैं या भविष्य में जब भी आप अपना बैंक खाता खुलवा आएंगे उस वक्त लेंगे ही तो आप लोगों को यह पोस्ट जरूर पढ़ना चाहिए.

ATM Full Form In Hindi

ATM का पूरा नाम “Automated Teller Machine” होता है जिसे हिंदी में हम “स्वचालित टेलर मशीन” भी कह सकते हैं.

विश्व में सबसे पहले ATM 1961 में सिटी बैंक का ATM Machine लगाया गया था. यह न्यूयॉर्क में स्थित था मगर उस समय वहां के स्थानीय लोग बैंक जाकर अपने पैसे निकालने को अधिक सुरक्षित माना करते थे तो इसी कारण लगाने के कुछ समय बाद ही उसे बंद करना पड़ा.

ATM क्या होता है?

ATM एक Electronic Telecommunications Device है. यदि आप लोगों के पास उपलब्ध है. तो आप अपने घर की नजदीकी किसी भी ATM पर जाकर पैसे निकाल सकते हैं और अब तो आपको कोई यदि अपने बैंक में पैसे जमा करने हैं.

तो उसके लिए आपको अपने बैंक में जाने की आवश्यकता नहीं है. आप के सहायता से ही तुरंत अपने खाते में पैसे जमा करवा सकते हैं.

इस्तेमाल करना बेहद आसान है. जब आप दो या तीन बार से पैसे निकाल लेंगे. तो उसके बाद आप खुद ही ATM Machine चलाना सीख सकते हैं और जब कभी भी आपको पैसों की आवश्यकता हो तो आप वहां जाकर पैसे निकाल सकते हैं.

इस्तेमाल करने के फायदे:

  • इस्तेमाल करने वाले लोगों को हर जगह कैश ले कर जाने की जरूरत नहीं पड़ती है.
  • 24 घंटे ATM खुले रहते हैं आप कभी भी जाकर अपना इस्तेमाल कर कैश निकाल सकते हैं.
  • यदि आरबीआई कोई नए नोट जारी करती है तो आप के मदद से उसे निकाल सकते हैं.
  • अगर आप लोग UPI इस्तेमाल करना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि आपके पार्ट डेबिट कार्ड होना चाहिए.
  • इस्तेमाल करने से बैंक के कर्मचारियों का कार्यभार कम हो जाता है.

ATM Card कितने प्रकार के होते है?

हमने ज्यादातर यह देखा है कि अक्सर लोग ATM Card और डेबिट कार्ड में Confuse रहते हैं तो मैं आप लोगों को यह बता देना चाहता हूं कि डेबिट कार्ड यह दोनों एक ही चीज होती है. ATM Card अलग-अलग प्रकार के होते है.

16 अंकों का एक नंबर होता है और उस पर आपका किस समय से और कितने समय तक के लिए Valid रहेगा इसके बारे में लिखा होता है.

पीछे ही एक CVV नंबर लिखा होता है जोकि किसी भी प्रकार की Online Transaction करने के लिए जरूरी माना जाता है. मुख्य रूप से ATM Card चार प्रकार के होते हैं:

  1. Rupay Debit Card
  2. Visa Debit Card
  3. Mastercard Debit Card
  4. Maestro Debit Card

अपने घर में ATM Machine कैसे लगवाए?

क्या आप लोग भी घर बैठे पैसे कमाने के तरीके के बारे में जानना चाहते हैं. तो उन्हीं में से एक तरीका यह भी है कि यदि आपके पास भी अपना घर है और आपने अपने घर में दुकानों के लिए जगह बनाई हुई है और आपका घर किसी ऐसी जगह पर है. जहां पर से मार्किट काफी पास में हो या आपके घर के नजदीक में कोई ATM नहीं हो.

तो घरों में मशीन लगाने वाले अथॉरिटी ने इसके लिए कुछ नियम बनाए हुए हैं. जिसके बारे में हम आपको आगे बताएंगे. यदि आप उन सभी नियमों को पूरा कर पाते हैं. तो आप भी अपने घर बैठे पैसा कमा सकते हैं.

घर में ATM Machine लगवाने के लिए Eligibility Criteria

  • आपका घर कम से कम 80-100 Square ft. कब होना चाहिए.
  • आपके घर किसी ऐसे जगह पर होना चाहिए कि वह मार्केट के काफी नजदीक हो या फिर किसी ऐसी जगह पर हो जहां से लोगों का आना जाना लगा रहता हो.
  • आपके घर के सामने पार्किंग की सुविधा होनी चाहिए.
  • आप जिस क्षेत्र में ATM Machine लगवाना चाहते हैं. वहां पर बिजली 24 घंटा होनी चाहिए.
  • आप जिस भी घर में Machine लगवाना चाहते हैं. वह कंक्रीट का बना होना चाहिए.
  • और जिस जगह पर आप लगवाना चाहते हैं. वह दुकान यह जगह कम से कम उसमें इतनी जगह तो हो कि एक आराम से लग जाए.
  • किसी के साथ जहां पर लगनी है उसके 100 मीटर के अंडर में कोई दूसरा नहीं होना चाहिए.

यह कुछ नियम है जोकि लगाने से पहले मशीन लगाने वाली कंपनी आपके घर आकर जाँच करते है. यदि उन्हें लगता है कि आपका घर ATM Machine लगवाने के लिए एक उचित स्थान है तो वह आपके घर पर लगवाने की प्रक्रिया को चालू कर सकते हैं.

  1. टाटा इंडिकैश (TATA Indicash)
  2. मुथूट (Muthoot)
  3. इंडिया वन (India1)

यह वो तीन कंपनी है जो कि लगाने का काम करती हैं और जब आप अपने घर में लगवाने के लिए आवेदन करते हैं. तो उससे पहले आपको अपने घर का एक कम से कम 30 सेकंड का वीडियो रिकॉर्ड करके भेजना होता है.

जिस वीडियो में आपको लगाने के स्थान व उसके आसपास की चीजें को दिखाना होता है. फिर उसके बाद जब सभी चीजें जांच ली जाएंगी तब जाकर यह लगाने वाली कंपनी आपके आवेदन फॉर्म को Approve कर सकती हैं.

ATM FAQs

Q1. इंडिया में कितने एटीएम है?

लेटेस्ट डाटा के हिसाब से इस समय इंडिया में 234,244 एटीएम एक्टिव है. जो की देश में मौजूद सरकारी और प्राइवेट बैंक्स द्वारा इनस्टॉल किया गया है.

Q2. किस बैंक के सबसे ज्यादा एटीएम है?

BANK OF BARODA के पास सबसे ज्यादा 8663 एटीएम है जो की पूरे देश मौजूद है. यहाँ पर ज्यादातर एटीएम कॅश विथड्रॉल के लिए है. इसके माध्यम से बैंक हर महीने करोड़ो रुपये की कमाई करता है.

Q3. इंडिया का सबसे पहला एटीएम?

ये बात शायद अपने कभी नहीं सुना होगा। लेकिन इंडिया में सबसे पहला एटीएम किसी इंडिया के बैंक नहीं बल्कि HSBC बैंक ने लगाया था और ये 1987 में मुंबई में लगाया गया था. उसके बाद अगले 10 साल में 1500 और लगाया था और फिर सावधान नाम से एक ग्रुप बनाया गया जो की देश ने एटीएम नेटवर्क को बढ़ावा देने में मदद की.

उम्मीद करते है यहाँ दिए गए जानकारी ATM Full Form In Hindi से पूरी जानकारी मिल गया है. यह सवाल बहुत बार पेपर में पूछा जाता है, लेकिन अगर सवाल का जवाब नहीं पता है तो लोगो को आईडिया नहीं मिल पाता है. ऐसे में जो जानकारी यहाँ पर दिया गया है वो बड़े काम की है और इसको सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे.

Leave a Comment