Best of 5 Rules in SSC – SSC Best of 5 Rules

महाराष्ट्र बोर्ड ने SSC Students के लिए एक नया रूल चालू किया है. जिसका नाम है Best of 5 Rules, इसका इस्तेमाल करके high school के स्टूडेंट्स के percentage बढ़ जायेगा और यहाँ पर हम इसी के बारे में जानकारी हासिल करेंगे। Best of 5 Rules in SSC 2023 के सब कुछ की यह किस केवल हाई स्कूल या फिर किसी और क्लास के बच्चो के यह एप्लीकेबल होगा.

Best of 5 Rule की शुरुआत अभी 2023 में हुआ है और नए सत्र के सभी Students के रिजल्ट में इसका असर देखने को मिलेगा। इसका फायदा होगा या नुकसान बहुत सारे स्टूडेंट्स तो जानते भी नहीं है. ऐसे में हमने सोचा क्यों ना इसके बारे में थोड़ा विस्तार से जानकारी दिया जाए की महाराष्ट्र बोर्ड ने ऐसा कौन सा नया नियम हाई स्कूल के स्टूडेंट्स के लिए लॉन्च किया है?

अगर आप या आपके किसी जानने वाले में कोई हाई स्कूल में है या पढ़ाई कर रहा है. तो उसको महाराष्ट्र बोर्ड के इस नए नियम Best of 5 Rules के बारे में विस्तार से जानकारी रखना बहुत जरुरी है. क्योकि अगर ऐसा नहीं करते है तो उनको समझ में नहीं आएगा की रिजल्ट में नंबर कुछ और है और Percentage कुछ और कैसे आ रहा है? तो इसलिए इस पोस्ट को ध्यान से पढ़े

Best of 5 Rules in SSC 2023

यह एक ऐसा रूल है जिससे स्टूडेंट्स का बहुत फायदा होगा और इस रूल की शुरुआत महाराष्ट्र गवर्नमेंट ने हाई स्कूल के स्टूडेंट्स के लिए शुरू की है. जिसका नाम रखा गया है Best of 5 Rules और जैसा की सभी को पता होगा की High School में 6 Subjects होते है.

जिसमे हर एक सब्जेक्ट 100 मार्क के होते है. ऐसे में जब फाइनल रिजल्ट अन्नोउंस होता है तो सभी marks count करके percentage निकाला जाता है. ऐसे में हो सकता है की स्टूडेंट्स का किसी सब्जेक्ट में मार्क कम आये हो जो की पूरे रिजल्ट को ख़राब कर दे. ऐसे में सरकार के इस नए रूल से स्टूडेंट का फायदा होने वाला है.

जो अभी तक Old रूल के हिसाब से मार्क कैलकुलेट होते है. जैसे की अनामिका एक हाई स्कूल की स्टूडेंट है जिसको एग्जाम में कुल मार्क मिले है.

English = 55/100

Marathi = 85/100

Sanskrit = 90/100

Maths = 95/100

Science = 92/100

Social Science = 96/100


Total marks = 513/600

अनामिका को 600 में से कुल 513 marks मिले है तो इस हिसाब से इसका Percentage अगर निकाले.

Percentage = Score/total*100

Percentage =513/600*100

Percentage = 85.5%

अगर अभी तक चल आ रहा रिजल्ट चेक करने वाले प्रणाली देखा जाए तो, हाई स्कूल में अनामिका को मिले है 85.5% जो की उसके English में 55 मार्क आने वजह से इसका टोटल Percentage पर गलत असर पड़ गया.

लेकिन अभी Best of 5 Rules से अनामिका जैसा हाई स्कूल में पढ़ाई करने वाले स्टूडेंट्स का मार्क बढ़ सकता है. यहाँ पर अगर हम इस रूल से फिर से मार्क कैलकुलेट करे तो, केवल 5 वो सब्जेक्ट ही चुने जायेंगे जिसमे अनामिका को सबसे ज्यादा मार्क्स मिले है.

Best of 5 Rules

अनामिका के सभी सब्जेक्ट्स में मार्क्स अच्छे है केवल इंग्लिश को छोड़कर ऐसे में जब बेस्ट ऑफ़ फाइव कैलकुलेट किया जायेगा तो उसमे से इंग्लिश वाले नंबर को काउंट नहीं किया जायेगा और इससे केवल 5 ही सब्जेक्ट रह जायेंगे आईये कैलकुलेशन देखते है.

Marathi = 85/100

Sanskrit = 90/100

Maths = 95/100

Science = 92/100

Social Science = 96/100


Total marks = 458/500

अनामिका को 500 में से कुल 458 marks मिले है तो इस हिसाब से इसका Percentage अगर निकाले.

Percentage = Score/total*100

Percentage =458/500*100

Percentage = 91.6%

यहाँ पर देख सकते है अनामिका का ओल्ड तरीके से मार्क्स कैलकुलेट करने के बाद परसेंटेज आ रहा था 85.5% और फिर जब बेस्ट ऑफ़ फाइव मेथड का इस्तेमाल किया गया तो यह हो गया 91.6% जो की लगभग 6% ज्यादा है ओल्ड वाले से, तो इस तरीके से स्टूडेंट्स के जिन पांच सब्जेक्ट में सबसे ज्यादा मार्क्स आये होंगे उनको जोड़कर परसेंटेज निकाला जायेगा.

Best of 5 Rules के फायदे

  • हाई स्कूल के बच्चो के लिए महाराष्ट्र सरकार का यह रूल एक वरदान साबित होगा.
  • कई बार बच्चे जो पढ़ने में अच्छे होते है लेकिन किसी एक सब्जेक्ट में उनकी स्थिति सही ना होने की वजह से उनके percentage बहुत कम हो जाते थे. लेकिन अब इस रूल का फायदा ऐसे स्टूडेंट्स को मिलेगा.
  • बच्चे अब उन सब्जेक्ट्स पर ज्यादा फोकस कर पाएंगे जिसमे उनकी स्थिति बहुत अच्छी है. ऐसे में फ्यूचर में उनको इन सब्जेक्ट्स के फायदे मिलेंगे जो की उन्हें ग्रेजुएशन में करने होंगे.
  • हाई स्कूल में एक सब्जेक्ट एक्स्ट्रा होता है जो की किसी भाषा या फिर आर्ट से जुड़ा होता है. बहुत सारे ऐसे बच्चे होते है जो की इनमे बहुत ज्यादा इंटरेस्टेड नहीं होते है. जिसकी वजह से इनका बहुत नुकसान हो जाता था लेकिन अब यह तरीका बड़े काम का होगा.

क्या Best of 5 Rules दूसरे क्लास के लिए भी है?

नंबर का कैलकुलेशन देखने के बाद आपको ऐसा लग रहा हो रहा होगा की यह सभी Classes के लिए है. तो ऐसा आपका सोचना बिलकुल गलत है. अभी यह पूरे देश में भी नहीं है. केवल देश के एक स्टेट महाराष्ट्र में यह नियम लागू किया गया है महाराष्ट्र स्टेट बोर्ड द्वारा, जैसा की आप सभी जानते होंगे की हर एक राज्य का अपना बोर्ड होता है. जैसे की उत्तर प्रदेश का UP Board.

तो या फैसला केवल स्टेट बोर्ड का है और अभी तक यह नियम केवल हाई स्कूल के स्टूडेंट्स के लिए आया है. चुकी इंटरमीडिएट का भी बोर्ड एग्जाम होता है, लेकिन उसमे केवल 5 सब्जेक्ट होते है. ऐसे में बोर्ड का अभी ऐसा कोई न्यूज़ या नोटिफिकेशन नही आया है की वह हाई स्कूल के अलावा किसी दूसरे क्लास के लिए भी यह नियम लागू करने वाले है.

ऐसे में मान सकते है की अभी Best of 5 Rules SSC के लिए है बाकि का कोई अपडेट नहीं है.

दोस्तों उम्मीद करते है आपको ये जानकारी पसंद आया हो की Best of 5 Rules SSC का मतलब क्या है. यहाँ पर हमने एक example के साथ हाई स्कूल के बच्चे का मार्क्स कैलकुलेट करके भी दिखाया है. लेकिन अगर फिर भी आपका कोई सवाल या सुझाव है तो इसके बारे में हमें कमेंट में जानकारी दे सकते है और इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर ताकि और लोगो को जानकारी मिल सके.

100 लोगो ने शेयर किया

Leave a Comment