eNAM full form in Hindi – क्या है e-NAM स्कीम?

दोस्तों आप लोगों में से बहुत से लोग किसान होंगे तो ऐसे में आप लोग यह चीजें बहुत अच्छे से जानते होंगे कि किसानों को अपनी फसल को लेकर अनेक प्रकार की समस्याएं होती हैं, इसी चीज को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार द्वारा एक योजना चालू की गई है जिसके अंतर्गत हमारे भारत के सभी किसानों को लाभ होगा. बहुत सारे लोग नहीं जानते है eNAM full form in Hindi और eNam scheme क्या है? इसलिए यहाँ पर हम इन सभी के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल करेंगे.

तो यदि आप भी एक किसान हैं तो हमारे इस आर्टिकल को आप लोग अवश्य पढ़ें इस आर्टिकल में आपको बहुत सारी चीजें सीखने को मिलेगी जैसे कि e-NAM क्या होता है व इसके क्या फायदे हैं, और जो भी लोग इसके वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करना सीखना चाहते हैं तो वह चीज भी हमने अपने इस आर्टिकल में बताई हुई है.

इस योजना में बहुत सारे किसानों ने पंजीकरण करा लिया है यदि आपने अभी तक e-NAM Portal पर पंजीकरण नहीं कराया है तो आप आज ही करा लीजिए मगर उससे पहले आपका यह फर्ज बनता है कि आप इसके बारे में अच्छे से जानकारी हासिल करें उसके बाद ही पंजीकरण कराएं। e-NAM Portal पर पंजीकरण कराने से आपको क्या-क्या फायदे होंगे उसके बारे में भी हमने आपको बताया हुआ है.

आइए e-NAM के बारे में पूरी जानकारी लेते हैं तो यदि आपको यह आर्टिकल जो कि e-NAM से संबंधित है यदि आपको पसंद आता है तो आप इसे अपने किसान भाइयों के साथ अवश्य शेयर करें ताकि उन लोगों को भी इसके बारे में जानकारी मिल पाए और वह भी इसका लाभ उठा पाए.

eNAM क्या है?

तो जैसा कि आप सभी लोग जानते ही होंगे कि एक किसान जैसे तैसे अपनी फसलों का उत्पादन करता है उसे बारिश धूप इन सभी छोटी-बड़ी समस्याओं का सामना करके आखिर वह अपनी फसल का उत्पाद करता है, और फिर जब वह अपनी फसलों को बेचने का प्रयास करता है. जब एक किसान अपनी फसल को लेकर किसी बिचौलिए के पास जाता है तो वहां पर उस किसान को अपनी फसल के उचित दाम नहीं मिल पाते हैं मगर उस किसान के पास कोई और रास्ता भी नहीं होता है अपनी फसल को बेचने का तो ऐसे में उस किसान को अपनी फसल कम दामों में ही बेचनी पड़ जाती है या फिर वह बाजारों में जाकर सब्जियां बेचते हैं.

eNam full form in hindi

मगर इस eNAM योजना का इस्तेमाल आप अपने फसलों को पूरे भारत के किसी भी राज्य के किसी भी मंडी में बेच सकते हैं. अब आप लोग यह सोच रहे होंगे कि यदि हम एक राज्य से किसी दूसरे राज्य में अपनी फसल को बेचने जाएंगे तो वहां पर हमारा काफी नुकसान हो सकता है और आने जाने समय लगेगा और इतनी सारी फसल एक राज्य से दूसरे राज्य में ले जाने पर भी आपको किराया देना पड़ेगा.

मगर यहां पर आपको यही फायदा मिलता है कि आप अपने घर बैठे ही अपनी फसल को पूरे भारत में कहीं पर भी बेच सकते हैं, इसी के लिए भारत सरकार ने e-NAM Portal चालू किया है जिसमें आपको केवल अपना पंजीकरण कराना है और उसके बाद आप अपनी फसलों को ऑनलाइन ही किसी भी मंडी में देख सकते हैं.

यहां पर लगभग 585 मंडिया उपलब्ध हैं जहां पर भी आप को आप की फसल का उचित दाम मिले आप वहीं पर ही अपने फसल बेच सकते हैं और इसमें आपको पैसों की भी चिंता करने की आवश्यकता नहीं है जब आप अपनी फसल को बेचेंगे उसके बाद आपने जितने भी दाम में अपनी फसल को बेचा होगा वह पैसे आपके बैंक खाते में ट्रांसफर कर दिए जाते हैं.

अब तक राष्ट्रीय कृषि बाजार में लगभग 585 मंडी जुड़ चुकी है और कुछ देशभर में करीब 27 से भी ज्यादा कृषि उपज मंडी और लगभग 4000 उप बाजार भी हैं.

e-NAM Full Form

दोस्तों यदि आप लोग यह जानना चाहते हैं कि e-NAM का फुल फॉर्म क्या होता है, e-NAM को हम (National Agriculture Market) भी कह सकते हैं. eNAM Meaning In Hindi, अगर अब यह बात करी जाएगी e-NAM को हिंदी में क्या कहते हैं तो इसे हम ( राष्ट्रीय कृषि बाजार) के नाम से भी जानते हैं.

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की मानें तो इस योजना से लगभग 1.5 करोड़ से भी ज्यादा किसान जुड़ चुके हैं। तो फिर ऐसे में आप इस योजना से अभी तक पीछे क्यों हैं आपको भी इस योजना के साथ जल्द से जल्द जुड़ जाना चाहिए.

eNAM से होने वाले लाभ

जब भी सरकार द्वारा कोई भी योजना का आयोजन कराया जाता है उससे पहले एक बैठक बैठती है जिसमें उस योजना से संबंधित जितने भी विशेषज्ञ हैं वह अपनी अपनी राय देते हैं की जिस योजना का आयोजन किया जाने वाला है वह जनता के लिए कितना लाभदायक हो सकता है. तो इस विषय को लेकर पहले एक बैठक बैठती है तब जाकर यह निश्चय लिया जाता है कि योजना ठीक है या नहीं। यदि वहां उपस्थित सभी लोगों को यह लगता है कि हां इस योजना के तहत आम जनता को फायदा जरूर होगा तभी उस योजना को चालू किया जाता है.

Agriculture naam

तो ठीक इसी तरह से जनता के हित के लिए नई-नई योजनाओं का आयोजन कराया जाता है.

चलिए जानते हैं राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना से होने वाले लाभ के बारे में:

  • उपभोक्ताओं के लिए स्थिर मूल्य और उपलब्धता
  • अधिक कुशल आपूर्ति श्रृंखला
  • भुगतान और डिलीवरी गारंटी
  • लेन-देन की त्रुटि मुक्त रिपोर्टिंग
  • बाजार में पहुंच बढ़ाना
  • खरीदारों के लिए कम लेनदेन लागत
  • उत्पादकों के लिए बेहतर मूल्य प्राप्ति
  • पारदर्शी ऑनलाइन ट्रेडिंग

यदि आप राष्ट्रीय कृषि बाजार के साथ जुड़ते हैं तो आप लोगों को कुछ इस प्रकार के लाभ हो सकते है.

e-NAM में पंजीकरण करने के लिए जरुरी दस्तावेज

जब हम किसी भी योजना के लिए कोई पंजीकरण कराना चाहते हैं तो उससे पहले हमारे पास कुछ जरूरी दस्तावेज होना चाहिए यदि आपके पास वह सभी जरूरी दस्तावेज नहीं होते हैं तो आपके फॉर्म को रिजेक्ट भी कर दिया जाता है.

यदि आप भी एक बार में ही राष्ट्रीय कृषि बाजार के लिए पंजीकरण को अप्रूव करवाना चाहते हैं तो उसके लिए आपके पास ही है सभी जरूरी डाक्यूमेंट्स होने चाहिए यदि आपके पास नीचे लिखे गए सभी डॉक्यूमेंट हैं तभी जाकर आप इस पंजीकरण के लिए आवेदन करें और जिनके पास भी है सभी डाक्यूमेंट्स या दस्तावेज नहीं है तो वह पहले इन सभी को बनवा लीजिए तब जाकर कहीं आप पंजीकरण कराएं अन्यथा आपका फॉर्म रिजेक्ट कर दिया जाएगा.

राष्ट्रीय कृषि बाजार में पंजीकरण कराने के लिए यह सभी दस्तावेज आपके पास होने चाहिए:

  • आधार कार्ड या पैन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • बैंक अकाउंट नंबर
  • बैंक का आईएफएससी कोड
  • एक कैंसिल चेक या बैंक के पास बुक का पहला पेज स्कैन करके लगाना होता है.
  • आपने आधार कार्ड से पैन कार्ड में से जो भी लगाया है उनका एक सही तरीके से फोटो खींचकर अपलोड करना होता है.

यदि आप लोगों के पास यह सभी जरूरी डॉक्यूमेंट दस्तावेज हैं तो आप भी अपनी फसल को उचित दामों में बेचने के लिए e-NAM (National Agriculture Market) पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं.

National Agriculture Market के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

e-NAM( राष्ट्रीय कृषि बाजार) के साथ जोड़ने का तरीका बेहद आसान है इसके लिए अब गूगल प्ले स्टोर पर आपको एप्लीकेशन भी उपलब्ध करा दिया गया है. यदि आप ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको उसके लिए Google Play Store से एक Android Application Download करना होगा जिसका नाम है e-NAM (National Agriculture Market) जब आप इस एप्लीकेशन को डाउनलोड कर लेंगे तो जिस तरह से हमने आपको नीचे एक रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया बताइए ठीक उसी तरह से आप इस एप्लीकेशन की मदद से भी अपना राष्ट्रीय कृषि बाजार में पंजीकरण कर सकते हैं.

Step 1. सबसे पहले आपको राष्ट्रीय कृषि बाजार के अधिकृत वेबसाइट पर जाना होगा उसके बाद सबसे ऊपर आपको रजिस्ट्रेशन लिखा हुआ मिल जाएगा आपको उस पर क्लिक करना है, (https://enam.gov.in/web)

Step 2. फिर उसके बाद एक नया टैब खुल जाएगा उसमें एक छोटा सा रजिस्ट्रेशन फॉर्म होगा तो यदि आप एक खरीददार हैं या फिर आप अपनी फसल को बेचना चाहते हैं आप दोनों ही यहां पर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, (https://enam.gov.in/NAMV2/home/other_register.html)

enam registration

इसमें आपको अपनी रजिस्ट्रेशन का स्तर का भी चयन कर लेना है यदि आप राज्य के साथ ही अपनी फसल को बेचना या खरीदना चाहते हैं तो तो आप उस पर क्लिक कर सकते हैं वरना फिर आप AMPC पर भी चयन कर सकते हैं.

Step 3. इसके बाद आपको अपनी सभी निजी जानकारी जैसे कि आपका नाम पता जन्मतिथि इस तरह की सभी जानकारी इस फॉर्म में भर देनी है. और हां ध्यान रहे आपको यहां पर सही ईमेल आईडी ही भरनी है यदि आपने गलत ईमेल आईडी भर दी तो उस पर आपके द्वारा पंजीकरण किए गए अकाउंट का लॉगइन आईडी और पासवर्ड आपके द्वारा लिखे गए ईमेल आईडी पर ही भेजा जाता है तो ऐसे में आप ईमेल आईडी लिखते वक्त एक बार दोबारा जांच जरूर कर लीजिए.

Step 4. फिर इसके बाद आपको पिछले हो पेज पर या फिर कहे तो होम पेज पर पर वापस आ जाना है और वहां पर आपको लॉग इन करने के लिए एक ऑप्शन दिखाई देगा उस पर क्लिक करके लोडिंग कर लीजिए. लॉग इन करने के लिए आपको लॉगइन आईडी और पासवर्ड आपके द्वारा लिखे गए ईमेल आईडी पर तुरंत भेज दिया जाता है.

Step 5. जैसे ही आप डैशबोर्ड में लॉगिन करते हैं उसके बाद आपको एक pop-up आता है जिसमें लिखा होता है “Click here to register with APMC” फिर आपको इस मैसेज पर क्लिक कर देना है. अब इसके बाद एक छोटा सा अप्रूवल प्रोसेस किया जाता है यानी कि यह देखा जाता है कि आप के द्वारा भरी गई सभी डिटेल्स सही है या फिर नहीं। जब आपका अप्रूवल स्वीकार कर लिया जाता है तब आपको एक ईमेल भेज कर बता दिया जाता है कि आपका APMC फॉर्म स्वीकार किया गया है या नहीं।

Step 6. यदि आप खुद से यह चेक करना चाहते हैं कि आपका APMC अपूर्व हुआ है या नहीं तो उसके लिए आपको eNAM (National Agriculture Market) वेबसाइट के होम पेज पर ही APMC स्टेटस लिखा हुआ मिल जाता है. जीमेल आईडी में आपको एक eNAM रजिस्ट्रेशन आईडी दी जाती है उसके सहायता से आप यह पता कर सकते हैं कि आपका APMC अप्रूव किया गया है या फिर नहीं।

यह थी एक e-NAM पंजीकरण करने की छोटी सी प्रक्रिया उम्मीद करता हूं कि आप सभी को हमारे द्वारा बताए गए यह सभी स्टेप्स समझ में आए होंगे।

बस इतना ही करना है आपको और फिर इसके बाद आप सफलतापूर्वक पंजीकरण कर चुके होंगे फिर इसके बाद आप अपने फसल को e-NAM (National Agriculture Market) योजना के तहत भारत के किसी भी राज्य की मंडी में बेच सकते हैं.

निष्कर्ष :

हमारे बहुत से किसान भाई लोग अपनी फसल को उचित दामों में बेच नहीं पाते हैं इस चीज को लेकर वह हमेशा काफी चिंतित भी रहते हैं तो इस समस्या को समझते हुए हमारी भारत सरकार ने एक योजना लाई है जिसके तहत आप अपने फसल को भारत के किसी भी राज्य की मंडी में बेच सकते हैं. जिसके लिए आपको घर से बाहर जाने तक की भी जरूरत नहीं पड़ेगी बस आपको ऑनलाइन eNAM (National Agriculture Market) में जुड़ जाना है और आप अपनी फसल को बेचकर अपने बैंक अकाउंट में पैसे मंगा सकते हैं। और यहां पर आपसे उचित दामों में ही आप की फसल को खरीदा जाएगा.

दोस्तों मैं उम्मीद करता हूं कि आप सभी को हमारा यह आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा तो यदि आपने अभी तक इस योजना के बारे में नहीं सुना था तो हमारे पास इससे जुड़ी जुड़ी जितनी भी जानकारी थी हमने आपको दी यदि आपका कोई और भी सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं और आप हमारे इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर कर दीजिए इससे हमें काम करने के लिए और भी प्रेरणा मिलती है.

100 लोगो ने शेयर किया

2 thoughts on “eNAM full form in Hindi – क्या है e-NAM स्कीम?”

Leave a Comment