Gold Price 1990-2021 : एक किलो सोना में क्या मिलेगा?

सोने का भाव इंडिया में कितना है? ये बताने की जरुरत नहीं है आज के समय में यह लगभग 50 हज़ार रुपये हो जा रहा है. लेकिन हमेशा से ऐसा नहीं था सोना(Gold) का price कुछ साल पहले बहुत कम हुआ करता था और यहाँ पर Gold price 1990 से लेकर 2021 तक देखने वाले है और साथ में जानेंगे की एक किलो सोना में क्या मिलेगा? बहुत सारे लोग जानना चाहते है की 1990 में सोने का भाव क्या था? 2021 में सोने का भाव का क्या है? ये सब लोग जानना चाहते है और लोग ऐसे में देखना चाहते है की खरीदना अच्छा होगा या नहीं

क्या अपने कभी सोचा की एक किलो सोना में आज क्या मिल सकता है और 1990 में क्या मिलता था? शायद सोचा हो या फिर शायद नहीं लेकिन यहाँ पर हम 1990-2021 gold price facts के बारे में जानकारी हासिल करेंगे जो की आप सभी के लिए बहुत interesting और रोचक होगा और आप इससे अंदाजा लगा सकते है की पिछले सालों में सोने का भाव कैसे बढ़ा.

Gold price facts के साथ-साथ हम ये भी जानकारी हासिल करेंगे की 18 carat, 22 carat और 24 carat gold में क्या अंतर है? ताकि जब आप सोने के गहने या कोई आभूषण खरीदने जाये तो आपको आइडियल मिल जाये कितने carat का सोना आपके लिए सही होगा.  सोना खरीदना सभी के आसान नहीं होता है क्योकि यह एक महंगी वस्तु है ऐसे में लोग पहले प्राइस को देखते है और फिर इसमें पैसा लगते है की कौन सा सोना लेना सही है. ऐसे में हमने यहाँ पर पिछले 21 सालों के सोने के भाव का Comparison किया है जो की आप तौर पर लोगो का हेल्प करेगा अगर वो इन्वेस्ट करना चाहते है.

एक किलो सोना में क्या मिलेगा?

1990 से लेकर अभी तक पूरे 30 साल हो गए है और हमने के चार्ट बनाया है जिससे 1990 से लेकर 2021 gold price को कुछ समय अंतराल पर लिस्ट बनाया है और उसका compare कारो से किया है ताकि आपको comparison करने में आसानी हो की एक किलो सोने में क्या मिलेगा और इससे आप इसके प्राइस को भी समझ सकते है.

हमने यहाँ बताया है की एक किलों सोना का भाव क्या था? और उस समय मिलने वाले कुछ बड़े चीज़ो के साथ तुलना किया है जिससे आप को आईडिया मिल जाये की एक किलों सोने में क्या ख़रीदा जा सकता है. ऐसे में अगर आप सोने में इन्वेस्टमेंट के बारे में सोच रहे है और Digital gold buy करना चाहते है या फिर गहने बनवाने के लिए खरीदना चाहते है तो आपको एक आईडिया मिल जायेगा.

हमने यहाँ पर एक वीडियो गाइड भी शेयर किया है की 1990 से लेकर 2021 तक सोने का भाव कितना है और आप आईडिया वीडियो से भी लगा सकते है. अगर आप पढ़ना नहीं चाहते है लेकिन ये तरीका सबसे अच्छा है की आप डिटेल से सब कुछ पढ़े और फिर वीडियो देखे तब आपको सही आईडिया लग पायेगा.

Gold Price 1990: 

1990 ने सोने का भाव 3200 रुपये Per 10g था और अगर किसी व्यक्ति के पास एक किलो सोना होता तो वह उस समय की सबसे पॉपुलर कार मारुती 800 खरीद सकता था एक किलो सोने के बदले.  बहुत सारे लोग सर्च करते है 1990 में सोने का भाव क्या था? क्योकि इसके बारे में बहुत कम जगह पर अपडेट मिलता है और यहाँ पर आपको जानकारी मिल गया.

सोचिये 1990 में सोने का भाव इतना कम था की अगर 1990 में सोना खरीदते तो आपको केवल कुछ हज़ार में लगभग किलो भर सोना मिल जाता है और फिर आप इसे आज के समय लाखो में बेच सकते है. 1990 में सोना की कीमत बहुत कम थी और उस समय मॅहगाई भी कम थी लेकिन एक और बात उस समय लोगो के पास इतना पैसे शायद ही होता होगा और आज जितना महंगा सोना है उस समय लोगो को उतना ही लगता होगा.

Gold Price 1995:

1995 में सोने के भाव में थोड़ा तेजी और 4680 रुपये Per 10g था इस समय अगर किसी के पास एक किलो सोना होता तो वह मारुती सुजुकी स्टीम कार खरीद सकता था सोने के बदले क्योकि स्टीम का प्राइस उस समय 3 लाख 50 हज़ार रुपये था जो की 1Kg गोल्ड में आसानी से मिल जाता.

केवल 5 साल में सोने के कीमत में 1300 रुपये से ज्यादा की कीमत का इजाफा हो गया और जो लोग इन्वेस्ट करने वाले थे समझ गए मार्किट आगे बूम होगा और सोने की कीमत में इजाफा होगा इसलिए उस समय बहुत सारे नए बिज़नेस स्टार्ट हुए जो की गोल्ड इन्वेस्टमेंट पर काम करने लगे और इस समय एक किलो सोने में मारुती स्टीम कार आसानी से मिल जाता।

Gold Price 2005:

2005 में gold price और ज्यादा उछाल देखने को मिला और सोना 7000 रुपये Per 10g था अगर 2005 में किसी व्यक्ति के पास 1 kg gold होता है तो वह Toyota Innova खरीद सकता था जो इस समय 6 लाख 70 हज़ार रुपये का मार्किट में उपलब्ध था. 10 साल बाद यानि 1995 से लेकर 2005 तक सोने के कीमत के दुगुना उछाल देखने को मिला और जो सोना केवल 4000 रुपये में मिल जाता था अब उसका प्राइस 7000 रुपये हो गया और बहुत सारे इन्वेस्टर को लग गया की अब सोने का प्राइस कम नहीं होगा और बढ़ता ही जायेगा और गोल्ड में बड़े-बड़े इन्वेस्टमेंट होने लगे.

2005 में टोयोटा की लुग्सरी कार इन्नोवा का प्राइस करीब 7 लाख रुपये थे और आप एक किलो सोने में आप इसे खरीद सकते थे आप इससे आइडियल लगा सकते है की 2005 में सोने का क्या वैल्यू था.

Gold Price 2010:

पांच साल बाद सोने के भाव तेजी से उछाल आया और 2010 में gold price मार्किट में 18500 रुपये per 10g हो गया था ऐसे में अगर किसी इंसान के पास 2010 में एक किलों सोना होता तो वह Toyota Fortuner brand new खरीद सकता था जो की उस समय करीब 17 लाख रुपये में मार्किट में उपलब्ध था. अगले पांच साल में सोने की कीमत में दुगुना से ज्यादा उछाल देखने को मिला चुकी इन्वेस्टर और डिमांड दोनों बढ़ रहे थे और इसलिए इसके प्राइस में hike हर साल देखने को मिल रहा था और हर 5 साल में इतना ज्यादा प्राइस बढ़ जाता था की लोग सोच भी नहीं सकते थे की कम होकर पिछले प्राइस पर ये कभी जा सकता है

2010 में भाव इतना बढ़ा की सोने एक किलो का प्राइस 17 लाख रुपये के करीब हो गया और उस समय इंडिया में सबसे लुगरी कार टोयोटा फॉर्चूनर जो की 17 लाख रुपये का आता था उसे आप खरीद सकते थे अगर आपके पास एक KG सोना होता तो आप इसे से आईडिया लगा सकते थे की 2005 में कीमत 7 लाख थी और 5 साल में 17 लाख हो गया.

Gold Price 2021:

इस समय सोने का भाव 48651 रुपये per 10g है और अगर किसी के पास 2021 में एक किलो सोना है तो वह समय लीजिये BMW X1 खरीद सकता है जिसकी कीमत इस समय 42 लाख रुपये है.

ये है सोने का भाव का जो की 1990 से लेकर अभी तक चेंज होता आया है और अपने देखा होगा की सोने का प्राइस पिछले सालों से गोल्ड प्राइस के भाव में उछाल आ रहा है और जिसके पास सोना होगा वो भी एक किलो तो वह घर बैठे लखपति होगा. लेकिन बहुत सारे लोग नहीं जानते है की सोने में 18, 22 और 24 कैरट gold में क्या अंतर होता है और अगर वह मार्किट में सोना लेने जाते है तो किस तरह का सोना खरीदना चाहिए.

18 carat, 22 carat और 24 carat gold में क्या अंतर है?

सोना एक नेचुरल पदार्थ है जिसको साफ़ करके जरुरत के हिसाब से अलग-अलग तरीके से बनाया जाता है. लेकिन शायद बहुत से लोग नहीं जानते है सोना एक नाज़ुक धातु है जो की आसानी से टूट सकता है अगर pure gold है तो वह आसानी से टूट सकता है इसलिए इंडस्ट्री ने लोगो के इस्तेमाल के हिसाब से सोने को दूसरे धातुओं के साथ इस्तेमाल करके मजबूत बनाया. इसके लिए Gold को अलग-अलग केटेगरी में बाटा गया है जिसे Carat कहते है और यहाँ हम इन्हे के बारे में जानकारी हासिल करेंगे.

अगर आप Gold में इन्वेस्टमेंट करना चाहते है और सोने के भाव से परचित होना है तो सबसे पहले आप जाने की इसके क्वालिटी के बारे में, क्योकि इसमें आपको प्राइस का अंतर देखने को मिलेगा और अगर आप समझ नहीं पाते है तो आपके लिए प्रॉब्लम हो सकता है. आपको कोई महंगे प्राइस में सस्ते क्वालिटी का सेल कर देगा और आप समझ नहीं पाओगे.

18 Carat Gold:

अगर सोना 18 कैरट है तो इसमें 75% सोना होता है, 15% चांदी और 10% कॉपर होता है. यानि अगर कोई व्यक्ति 18 कैरट गोल्ड खरीदता है तो उसे केवल 75% ही सोना मिलता है बाकि के दूसरे धातु होते है इसलिए इसका प्राइस कम होता है. सोने का सबसे सस्ता क्वालिटी यही होता है और इसको इस्तेमाल में लाया जाता है किसी ऐसे काम जहा पर उसको मजबूती के साथ इस्तेमाल किया जा सके इसलिए सोने को दूसरे धातुओं के साथ मिलाकर बनाया जाता है और लोग इसका इस्तेमाल कर पाते है.

22 Carat Gold:

22 कैरट सोने में 91.70% gold होता है, 5% चांदी होता है, 2% कॉपर होता है और 1.30% जिंक होता है. आभूषण बनाने के लिए सबसे ज्यादा 22 carat gold का इस्तेमाल किया जाता है और अपने देश में सबसे ज्यादा लोगो के यही सोना है क्योकि इसमें गोल्ड की मात्रा भी अच्छा होता है और यह मजबूत भी होता है जिसे आसानी से थोड़ा नहीं जा सकता है.

24 Carat Gold:

यह सबसे pure गोल्ड होता है और आप जो सोने की बिस्कुट, बार बनाने के लिए ज्यादा लोग इस्तेमाल करते है ताकि उसे रख सके इसमें करीब 99.5% gold होता है और .5% कॉपर या जिंक होता है. 24 कैरट के आभूषण बनाये नहीं जाते जब की कस्टमर का डिमांड ना हो इसका इस्तेमाल दूसरे तरह के गोल्ड या वस्तु बनाने में किया जाता है.

दोस्तों यहाँ पर हमें बताया 1990-2021 gold price के बारे में और अब तक के हुए गोल्ड प्राइस में change के बारे में बताया है साथ में गोल्ड क्वालिटी में हो रहे change और इनके प्रकार के बारे में भी बताया है उम्मीद है आपको जानकारी पसंद आया हो अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट में इसके बारे में आप पूछ सकते है. हम आशा करते है की आपको 1990 से लेकर 2021 तक एक सोने के भाव के बारे में जानकारी लग गया हो अगर आप Gold में Investment करना चाहते है तो आपको इनके प्राइस को ट्रैक करना होगा और समझाना होगा किस क्वालिटी में पैसा लगाना है.

100 लोगो ने शेयर किया

Leave a Comment