ग्राम प्रधान, BDC & जिला पंचायत की सैलरी कितनी होती है?

ग्राम पंचायत चुनाव आ रहा है और यह UP में बहुत जोरो और शोरो के साथ चल रहा है. इस चुनाव में मुख्य तीन लोग चुने जाते है ग्राम प्रधान, BDC और जिला पंचायत सदस्य यह जितने के बाद कैसे रहते है ये आप सभी जानते है. लेकिन क्या आप ग्राम प्रधान, BDC और जिला पंचायत सदस्य की सैलरी जानते है? अगर नहीं जानते तो हम बताएँगे की ग्राम प्रधान की सैलरी कितनी होती है? BDC को सैलरी कितना मिलता है? और आखिर में जिला पंचायत सदस्य को कितना वेतन मिलता है?

इस समय देश के बहुत से में चुनाव है लेकिन ग्राम पंचायती चुनाव का बोलबाला इस समय उत्तर प्रदेश में है, चुनाव में कौन जाति, वर्ग के के व्यक्ति चुनाव लड़ सकते है ये तय हो गया अब बस इंतजार है चुनाव के तारीख का लेकिन उससे पहले जान लेते है की अगर आप ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ना चाहते है तो पहले देख लीजिये वेतन कितना मिलेगा.

Salary Gram Panchayat

यहाँ पर हम सब जानेंगे की क्षेत्र पंचायत सदस्य का वेतन कितना होता है? प्रधान की सैलरी और इनसे जुड़े बहुत से फैक्ट्स के बारे में जानकारी हासिल करेंगे ऐसे में अगर आप गांव के पॉलिटिक्स से जुड़े सवालों के जवाब चाहते है. तो इसके लिए आपको ये जरूर पता होना चाहिए की समाज की सेवा करने के लिए सरकार कितने पैसे देती है. आपको यहाँ पर डिटेल जानकारी मिलेगा और आप पूरी तरह से समझ जायेंगे की देश में BDC, जिला पंचायत और ग्राम प्रधान का वेतन हर महीने कितना होता है?

ग्राम पंचायत चुनाव से जुड़े कुछ मुख्य सवाल-जवाब

ये तो अपने जान लिया की ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत की सैलरी कितनी होती है. लेकिन चुनाव को लेकर और बहुत सारे questions होते है जिनके बारे में जानकारी होना जरुरी है. यहाँ पर हम कुछ कॉमन सवालों के बारे में जानते है जो की चुनाव लड़ने या इसके बारे में जानकारी रखने में बहुत मददगार साबित होता है.

देश में सभी राज्यों में अलग अलग समय पर चुनाव होते रहते है. चुकी यह स्टेट इलेक्शन कमिशन द्वारा कराये जाते है इसलिए इसमें वोटिंग मशीन का नहीं बल्कि इस्तेमाल किया जाता है बैलेट पेपर और एक साथ तीन पदों के के लिए चुनाव होता है ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य जिसमे सबसे मुख्य ग्राम पधान का चुनाव माना जाता है.

तीनो को मिलने वाले सैलरी के बारे में जानकारी हासिल करने से पहले हम कुछ अहम् सालों के बारे में जान लेते है ताकि आपको समझने में परेशानी ना हो और अगर आप उम्मीदवार बनने की सोच रहे है. तो इसका बड़ा बेनिफिट आपको मिल सकता है. ऐसे में सवालों को ध्यान से पढ़े और फिर आगे बढे.

Q1. ग्राम प्रधान का कार्यकाल कितना होता है?

A1. ग्राम प्रधान का कार्यकाल 5 साल का होता है.

Q2. ग्राम प्रधान के लिए योग्यता क्या है?

A2: ग्राम प्रधान के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता हर एक राज्य में अलग-अलग होता है. यह राज्य सरकार चुनाव आयोग पर निर्भर करता है.

Q3: ग्राम प्रधान बनने की आयु क्या है?

A3: ग्राम पंचायत चुनाव लड़ने के लिए न्यूनतम 21 साल होना चाहिए.

Q4: ग्राम पंचायत चुनाव लड़ने के लिए जरूरी दस्तावेज क्या हैं?

A4: ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत चुनाव लड़ने के लिए कुछ जरुरी डाक्यूमेंट्स की जरुरत होती है यहाँ पर उनका लिस्ट दिया है.

  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों के लिए जारी जाति प्रमाण होना चाहिए.
  • न्यूनतम 21 साल उम्र होना चाहिए इसके लिए आधार कार्ड होना चाहिए.
  • निर्वाचन क्षेत्र/ग्राम पंचायत की मतदाता सूची में उसका नाम होना चाहिए.
  • चरित्र प्रमाण-पत्र, आय प्रमाण-पत्र, आधार कार्ड, पेनकार्ड, मूलनिवास तथा पुलिस सत्यापन आदि की आवश्यकता हो सकती है.

ग्राम प्रधान का वेतन कितना होता है?

Gram pradhan

ग्राम पंचायत का चुनाव तीन स्तरीय होता है और उसका पहला उम्मीदवार ग्राम प्रधान होता है और ग्राम प्रधान का वेतन 3500 रुपये प्रति महीने मिलता है. मानदेय के साथ-साथ ग्राम प्रधान को कुछ भत्ते भी मिलते है गांव के सभी काम सुचारु रूप कर सके.

गांव में होने वाले सभी विकास के लिए सरकार ग्राम प्रधान को हर एक बजट मुहयिया कराती है और अगर विकास निधि से ग्राम प्रधान पैसे कमाने की कोशिश करते है तो यह गैर-कानूनी है.

पहले ग्राम प्रधान की सैलरी बहुत कम था ये करीब 1000 रुपये था, फिर इसको बढाकर 2500 रुपये किया गया और अब यह 35000 रुपये महीना हो गया है. ग्राम प्रधान को यातायात के लिए 15000 रुपये भत्ता मिलता है जो की उत्तर प्रदेश के प्रधान के लिए होता है. बाकि के दूसरे राज्य बिहार, हरयाणा, पंजाब, मध्य प्रदेश और दूसरे में आपको कुछ अलग भत्ते देखने को मिल सकते है.

ग्राम प्रधान की सैलरी
ग्राम प्रधान की तनख्वाह = मासिक मानदेय + यातायात भत्ता =3500 रुपये + 15000 रुपये =18500 रुपये/महीना

तो मुखिया का वेतन 18500 रुपये हुआ हर महीने.

वेतन के अलावा हर साल उनके लिए सरकार की तरफ से कुछ बजट पास किया जाता है गांव के विकास के लिए, प्रधान उस बजट का इस्तेमाल ग्राम सेक्रेटरी की सहायता से गांव का विकास करने के लिए जैसे की सुंदरीकरण, चकरोड, पुलिआ, नलिया, रोड लाइट जैसे काम के लिए इस्तेमाल कर सकते है.

क्षेत्र पंचायत (BDC) का वेतन कितना होता है?

क्षेत्र पंचायत सदस्य जिसे हम आप भाषा में BDC के नाम जानते है इसका भी चुनाव ग्राम प्रधान के साथ ही होता है. आम नागरिक अपने मत का इस्तेमाल क्षेत्र पंचायत सदस्य चुनने के लिए भी करते है. BDC में जो प्रत्याशी जीतता है वह आगे चलकर ब्लॉक प्रमुख चुनने के लिए वोट डालता है. क्षेत्र पंचायत सदस्यों को कोई मान देय नहीं मिलता है लेकिन सरकार BDC हर महीने 500 रुपये हर महीने भत्ता देती है.

क्षेत्र पंचायत सदस्य जिन्हे हम आम तौर पर BDC के नाम से जानते है. यह जिले में किसी के ब्लॉक के विकास को आगे बढ़ाने के काम में ब्लॉक प्रमुख का मदद करते है इनका काम होता है क्षेत्र की समस्याओं को ब्लॉक तक पहुंचना और गांव के लोगो को वो सारी सुविधाएं दिलवाना जो की ब्लॉक से मिलता है. जैसे की खेत के लिए उर्वरक, बीज, सब्सीडी, कीटनाशक और बहुत कुछ.

इसके लिए BDC को हर महीने भत्ता मिलता है ताकि वह अपने काम को सुचारु तरीके से कर सके. BDC का चयन भी प्रधान के साथ चुनाव के माध्यम से किया जाता है. कोई भी आम नागरिक जो की 18 साल से ऊपर का हो वह क्षेत्र पंचायत के पद के लिए चुनाव लड़ सकता है.

जिला पंचायत सदस्य का वेतन कितना होता है?

ग्राम प्रधान के साथ एक और मुख्य चुनाव होता है जिला पंचायत सदस्य का और इसके लिए भी आम जनता वोट करती है और के सही उम्मीदवार का चुनाव करती है. जो लोग जिला पंचायत सदस्य का चुनाव जीतते है वो जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए चुनाव लड़ सकते है और इनका राजनीति में बहुत पकड़ होता है.

जिला पंचायत चुनाव अध्यक्ष को सरकार हर महीने 14000 रुपये मानदेय देती है और सदस्य को किसी भी तरीके का मानदेय नहीं मिलता है बस बैठक करने के लिए 1000 रुपये भत्ते के रूप में मिलता है.

जिला पंचायत सदस्य का काम होता है अपने बड़े क्षेत्र की समस्याओं को जिले स्तर तक पहुंचना और लोगो को उनके समाधान मुहयिया करना, वैसे तो इनका कोई भी तय पद नहीं होता है. लेकिन यह जिला पंचायत अध्यक्ष को चुनने में मदद करते है और उनके लिए वोट करते है. क्षेत्र पंचायत और जिला पंचायत सदस्य साथ मिलकर अपने क्षेत्र का विकास करने में मदद करते है.

दोस्तों, यहाँ पर ग्राम पंचायत चुनाव से जुड़े तमाम सवालों के जवाब आपको यहाँ पर मिल गए है जैसे की ग्राम प्रधान का वेतन कितना होगा, BDC को कितना भत्ता मिलता है और जिला पंचायत को कितना भत्ता मिलता है इन सभी के बारे में जानकरी यहाँ मिला अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट में इसके बारे में जरूर बताये. अगर आप अगली बार चुनाव लड़ने के बारे में सोच रहे है तो इसके बारे में जानकारी रखना बहुत जरुरी है की सैलरी मिलता है क्योकि इसी से आपकी आय तय की जाती है और उम्मीद करते है आपको सभी के बारे में जानकारी विस्तार से मिला हो.

100 लोगो ने शेयर किया

Leave a Comment