INR Full Form in Hindi – INR का फुल फ़ॉर्म क्या है?

INR Full Form बहुत कम लोग जानते है लेकिन इसके बारे में अकसर सुना होगा और बहुत बार देखा होगा जैसे की अगर अपने money transfer किया होगा तो उसमे अपने INR को देखा होगा और जब भी ऑनलाइन USD को convert करते है Indian rupee में तब भी अपने INR देखा होगा. लेकिन शायद अपने कभी सोचा हो की INR full form क्या होता है? और भारतीय मुद्रा के लिए INR क्यों लिखा जाता है.

अगर आप जानना चाहते है तो इसके बारे में तो हमारे साथ बने रहे और इसके बारे में exam में भी सवाल पूछे जाते है की INR क्या होता है? और इसका पूरा मतलब क्या होता है? आज यहाँ पर आपको पूरी जानकारी यहाँ पर मिलेगा.

INR क्या है? भारत में रुपये की शुरुआत कब से हुआ इसके बारे में बहुत कम लोग जानते है. अक्सर एग्जाम में ये सवाल भी पूछ लिया जाता है की रुपये को INR क्यों कहते है तो शायद उस समय आपके पास जवाब नहीं रहता होगा क्योकि इसके बारे में ज्यादा लोगो को Knowledge नहीं है. चुकी ये शब्द बैंकिंग और फाइनेंस से जुड़ा है तो बहुत सारे लगो मतलब भी रखना नहीं चाहते है.

INR Full Form in Hindi (1st Full Form)

INR का full form होता है Indian Rupee और इसे देश का currency code भी कहा जाता है. इसके साथ अपने ₹ भी देखा होगा जिसे currency sign के रूप में जाना जाता है. ₹ symbol को 2010 में D. Udaya Kumar ने बनाया था और तब इसी को रुपये सिंबल के रूप में इस्तेमाल किया जाता है.

INR code को बनाने के लिए इसे ISO 4217 में registered कराया जाता फिर यह किसी एक देश के currency code के रूप में registered हो जाता है. जैसे की अपने सुना होगा USD जिसका full form होता है United State Dollar यह America का currency code है इसी तरह INR जिसे हम Indian Rupee के नाम से जानते है यह देश का currency code है.

Indian rupee

INR1 लिखा है तो इसमें मतलब होता है 1 रुपये और अगर इसी तरह INR100 लिखा होता है तो इसका मतलब होता है 100 रुपये और इसका रुपये में काउंट करने का एक और कारण है कुछ समय पहले Reserve Bank India ने सबसे कम मानक 1 रुपये को कर दिया है जो की पहले पैसे में होता था इसलिए अगर कही पर INR 1 लिखा है तो इसका मतलब 1 रूपया होता है.

इस समय देश में आपको 1, 2, 5 और 10 रुपये के सिक्के मिल जाते है जिसमे से 10 रूपया एक अकेला ऐसा करेंसी है जिसके नोट और सिक्खे दोनों मिल जाते है. उसके बाद 20, 50, 100, 200, 500 और 2000 रुपये के नोट आपको मिलते है. यही सारे करेंसी इस समय देश में वैलिड है. भारत सरकार एक बार Demonetization कर चुकी है जिसमे 1000 रुपये के नोट को Ban कर दिया गया था और बाकि के नए नोट निकालें गए थे.

Indian Rupee का इतिहास

भारतीय रुपये की शुरुआत 6वी शताब्दी से हुआ था और उस समय दुनिया के बस कुछ ही कंपनी है जिन्होंने अपना पहला ऑफिसियल कॉइन लांच किया था. मौर्य साम्राज्य के समय Chanakya ने इसका बारे में लिखा था और उस समय इसे rūpyarūpa के नाम जाना जाता था और इसके साथ गोल्ड और सिल्वर कॉइन होते थे.

आपको जानकर हैरानी होगी रुपये का नाम बहुत सोच समझ कर रखा गया है. यह दो शब्द को मिलाकर बनाया गया है जिसमे Rupa (रूपा) इसका मतलब होता है Shape और पाइया जिसका मलतब होता है धन और इसी को मिलाकर रुपईया बना दिया गया. जिसे आज के समय में हम रुपये या Rupee के नाम से जानते है.

1540 ईस्वी में Sher Shah Suri ने फिर से ऑफिसियल सिक्का निकला जिसका नाम रुपया रखा गया और फिर यही बन गया इंडिया का पहला रूपया लेकिन इसके रुट आपको मौर्य साम्राज्य से ही मिलेंगे.

Rupee की शुरुआत 1800 ईस्वी से हुआ उस समय Rupee नाम से पहला Silver coin चलाया गया चुकी उस समय भारत पर East India Company का राज था तो आपको सिक्के पर महारानी विक्टोरिया के फोटो वाले सिक्के चलते थे और इसे बैंक ऑफ़ इंग्लैंड के द्वारा मैनेज किया जाता था. 1947 में आजादी मिलने के बाद भारत सरकार ने अपना ऑफिसियल Rupee लांच किया.

भारतीय रुपया में सुरक्षा की समस्याएं

भारतीय रुपये के सुरक्षा को लेकर भी सरकार बहुत परेशान रहती है. इसकी वजह से सरकार एक बार Demonetization कर दिया था ताकि जो लोग रुपये का कॉपी करके डुप्लीकेट करेंसी बना रहे है उनका पैसा किसी काम का ना रहे. लेकिन फिर भी देश में ऐसे बहुत सारे माफिया है जो की रुपये के सुरक्षा के लिए प्रॉब्लम है. ये कुछ कॉमन समस्याएं है जिन्हे आये दिन RBI और सरकार को फेस करना होता है. 

  • Watermarking
  • Fluorescence
  • Insert Security Thread
  • Use Identification Marks
  • Use of Optically Variable Ink

INR Full Form in Hindi (2ndFull Form)

INR एक full form आप सभी जान लिया लेकिन अभी एक और है जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते है. इसके बारे में केवल वही लोग जानते है जो student है वही केवल जानते है. INR का एक full form होता है International Normalized Ratio. इसका इस्तेमाल मेडिकल साइंस में किया जाता है जो की blood का clotting tendency पता करने के लिए होता है.

इसका इस्तेमाल किया जाता है prothrombin time test के लिए होता है जिससे bleeding problems को text किया जाता है और prothrombin time test का एक factor होता है INR. चुकी prothrombin time test का सबसे मुख्य factor होता है INR इसलिए इसे INR test के नाम से भी जाना जाता है.

दोस्तों उम्मीद है आपको INR full form और meaning के बारे में सभी जरुरी जानकारी यहाँ से मिल गया हो अगर आप इसके बारे में अपना कोई सुझाव या विचार शेयर करना चाहते है तो कमेंट में इसके बारे में जरूर बताये और अगर INR से जुड़ा आपका कोई सवाल तो भी आप कमेंट में बता सकते है.  अब आपको समझ में आ गया होगा की INR क्या होता है और इसका पूरा नाम क्या है अगर आप से कोई पूछे की आपके रुपये को INR क्यों कहते है तो अब आप जवाब देने में सक्षम है. उम्मीद करते है ये सारी जानकारी आपको अच्छे से समझ में आ गया हो

Leave a Comment