RIP Full Form in Hindi | RIP का मतलब क्या होता है?

Social media पर RIP शब्द को बहुत बार देखा होगा लेकिन क्या आप जानते है RIP Full Form क्या होता है? और इसे Hindi में क्या है? शायद नहीं जानते होंगे क्योकि #RIP word से ही आपका काम चल जाता है और बहुत सारे लोग जानने के की कोशिश नहीं करते है. लेकिन अगर आप जनन चाहते है की RIP full form in Hindi तो आप सही जगह है.

अगर किसी व्यक्ति की मौत हो जाती है तो उसके लिए लिखा जाता है आर.आई.पी और लोग सोशल मीडिया पर अपने भाव के साथ ये शब्द जरूर इस्तेमाल करते है. इस शब्द को अपने ईसाई व्यक्तियों के कब्र पर देखा होगा लेकिन इसका मतलब शायद ही कभी समझने की कोशिश की हो यह क्यों लिखा जाता है और अगर किसी मरे हुए व्यक्ति के लिए लिखा जा रहा है तो इसका मतलब अच्छा है या बुरा है.

RIP FULL FORM

RIP full form के बारे में आपको यहाँ पर विस्तार से जानकारी मिलेगा और आप समझ पायंगे की कब हमें किसी इंसान के लिए RIP शब्द का इस्तेमाल करते है. यह दुनिया के सबसे ज्यादा emotional और इस्तेमाल किये जाए वाले short form में से एक है और आज लोगो को जानना जरुरी है की RIP meaning Hindi में क्या होता है? क्योकि इस शब्द का इस्तेमाल आप हर किसी के लिए नहीं कर सकते है. अगर अपने इसका इस्तेमाल गलती से किसी ऐसे इंसान का लिए कर दिया जो की अभी इस दुनिया में है. तो शायद वह आपके लिए सबसे बड़ा दुशमन बन जायेगा इसलिए पहले आप समझो की RIP का पूरा नाम और फिर आप इसका इस्तेमाल करना सीखो और सोशल मीडिया पर इस्तेमाल करे.

R.I.P full meaning in Hindi

RIP का full form होता है Rest In Peace या एक लैटिन शब्द Requiescat in Pace से बना है जिसका हिंदी मीनिंग होता है मृत आत्मा को शांति में विश्राम के लिए की जाने वाली प्रार्थना. जब किसी मौत हो जाती है तो दूसरे व्यक्ति उसके लिए प्राथना करते है ताकि उसके आत्मा को शांति मिल सके और वह दूसरे दुनिया में शांति से रह सके. यह 3 अलग अलग words को मिलकर बना है जिसमे हर किसी का मतलब होता है. इसलिए जब किसी व्यक्ति की मौत हो जाती है तो उसके लिए हम इसका इस्तेमाल करते है और उसके परिवार को एक Emotional support देते है.

R – Rest (आराम करें)

I – In (से)

P – Peace (शांति)

सोशल मीडिया जैसे की Facebook, Twitter, Instagram और WhatsApp पर लोग मरे हुए व्यक्ति के आत्मा के शांति के लिए RIP शब्द लिखकर अपने भाव प्रकट करते है. RIP को आप समझ लीजिये की यह इंटरनेट का शांति मन्त्र है जिसे लोग hashtag के रूप में इस्तेमाल करते है ताकि उस व्यक्ति को शांति मिल सके और अभी कुछ पहले.

कुछ समय पहले जब शुशांत सिंह राजपूत की मौत हो गयी थी तो लाखो लोगो ने उनके आत्मा के शांति के लिए आर.आई.पी शब्द का इस्तेमाल कर रहे थे और उस समय यह इंटरनेट का सबसे ट्रेंडिंग tag हो गया था. इस तरह लोग किसी मरे हुए व्यक्ति के कब्र पर RIP या Rest In Peace लिख देते है ताकि उनके आत्मा को शांति मिले और वह आराम से हमेशा के लिए सो सके.

अपने देखा होगा जब शुशांत सिंह राजपूत की मौत हो गयी थी तो लाखो लोगो ने इनके परिवार को इमोशनल सपोर्ट देने के लिए RIP के माध्यम से अपनी भावना सोशल मीडिया पर शेयर किया था और अभी कुछ दिन पहले दिलीप कुमार जो की बॉलीवुड के जाने माने सेलिब्रिटी थे उनकी मौत हो गयी तो लोगो इनके लिए भी इसी तरह अपनी भावना व्यक्त की थी.

RIP का इतिहास

मरे हुए लोगो के लिए RIP शब्द का इस्तेमाल किये जाने की परंपरा बहुत पुरानी है और इसकी शुरुआत रोमन समय में 5वी सदी में हुआ उस समय ईसाई धर्म के लोग जो की कैथोलिक चर्च को मानते थे वो मरने वाले वयक्ति के लिए एक विशेष प्राथना करते और उनके कब्र पर Rest In Peace लिख देते और आज भी यह मूल रूप से ईसाई धर्म द्वारा ही इस्तेमाल किया जाता है.

जैसे की हिन्दू धर्म में राम ना सत्य है बोलते है और मुस्लिम में अल्लाह को याद करते है उसी तरह RIP का इस्तेमाल ईसाई लोग करते है लेकिन इंग्लिश और वेस्टर्न कल्चर पूरी दुनिया में हर तरीके से अपना राज जमा रहा है.

हर कोई वेस्टर्न को ही फॉलो करना चाहते है तो ऐसे में RIP meaning Hindi में इसी से जुड़ा है और इसलिए लोग इंडिया में भी किसी व्यक्ति के मरने पर RIP शब्द का इस्तेमाल करते है.

रेस्ट इन पीस का हिंदी में मतलब

अगर किसी व्यक्ति की मौत हो गयी है और आपको उसे श्रद्धांजलि देना है. तो इसके लिए अंग्रेजी का एक शार्ट शब्द इस्तेमाल किया जाता आर.आई.पी जिसका हिंदी मतलब होता है शांति से आराम करें और ईश्वर की शरण में आपको बेहतर स्थान मिले. प्रथा यह है की इस तरीके से अगर लोग किसी मरे हुए व्यक्ति को श्रद्धांजलि देते है तो उसकी आत्मा को शांति मिलती है.

भारतीय संस्कृति में अभी इसका चलन सोशल मीडिया तक सिमित है अभी भी अपने देश में लोग किसी के मौत हों जाने पर बोलते है – भगवान् इनकी आत्मा को शांति दे.

क्या किसी के मरने पर RIP बोलना सही है?

RIP means death होता है और केवल उसी व्यक्ति के लिए बोला जाता है जो व्यक्ति इस दुनिया में नहीं होता है यानि मर चूका होता है. लेकिन अगर आप गलती से किसी ऐसे व्यक्ति के बारे में बोल देते है जो बीमार और जीवित है तो लोग आपको बहुत गलत समझते है और ऐसा बिलकुल मत करना कही पर भी.

भारतीय कल्चर में RIP meaning in Hindi का या किसी भी ऐसे इंग्लिश वर्ड का कोई स्थान नहीं है. अगर आप किसी व्यक्ति के पुण्यतिथि में जा रहे है तो वहा पर RIP या Rest in peace बोलने की जरुरत नहीं है अगर आप ऐसा करते है तो बुड्ढे लोग बुरा मान जाते है. ऐसे में समय और सिचुएशन देखर इस तरह के इंग्लिश वर्ड का इस्तेमाल करे.

हमारा सुझाव है की आप इस तरह एक वर्ड केवल सोशल मीडिया पर इस्तेमाल करे क्योकि यहाँ पर सभी किसी व्यक्ति के मरने पर इसी तरह से व्यक्ति करते है. तो ऐसे में आप वही पर इसका इस्तेमाल करे तो ज्यादा बेहतर होगा.

दूसरे फुल फॉर्म

दोस्तों उम्मीद है आपको RIP full form Hindi meaning के बारे में जानकारी मिल गया हो तो ऐसे में अगर आपसे कोई पूछे इसका पूरा नाम क्या है तो आप तुरंत जवाब दे सकते है Rest in Peace. अब आप सोशल मीडिया पर ध्यान से #RIP का प्रयोग करे क्योकि अगर बिना जाने करेंगे तो शायद फस सकते है और अपने विचार कमेंट में साझा भी करे.

Leave a Comment